Skip to main content

चिंतन: सीखने का ज़रिया Pedagogy

यह कोर्स किस विषय पर है और इसे कौन करे

दोस्तों! हम शिक्षक अक्सर अपनी कक्षाओं और बच्चों के पास ना रहकर भी उनके बारे में ही सोचते रहते हैं, लेकिन कितना अच्छा हो अगर हम अपनी सोच को ऐसे इस्तेमाल कर सकें कि हम अपनी कक्षाओं में मनचाहे बदलाव ला सकें!

क्या! आपको विश्वास नहीं होता कि सोच इतनी शक्तिशाली भी हो सकती है कि वह कक्षा में मनचाहे बदलाव कर सके! यकीन मानिए ऐसा करना पूरी तरह मुमकिन हो सकता है, अगर आप सही दिशा में चिंतन करें तो| इस कोर्स में गहरा और निष्पक्ष चिंतन करने की कला के बारे में चर्चा की गई है| हमें उम्मीद है कि इस कोर्स को करने के बाद आपका आपकी कक्षा और बच्चों को देखने का नज़रिया और गहरा हो जाएगा! तो देर ना करें और फटाफट ये कोर्स देख डालें| और हाँ! एक और ख़ास बात, यह कोर्स हर कक्षा स्तर के शिक्षक के लिए लाभदायक हो सकता है इसलिए प्राथमिक कक्षाओं से लेकर उच्च माध्यमिक कक्षाओं तक, सभी शिक्षक इस कोर्स का आनंद उठा सकते हैं|

कोर्स के लेखक 

इस कोर्स को भारत के सभी शिक्षकों तक पहुंचाने की कोशिश पारुल भरद्वाज ने की है| ये स्नातक शिक्षा दिल्ली यूनिवर्सिटी से और स्नातकोत्तर स्तर तक शिक्षा टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोशल साइंस से पूरी कर चुकी हैं|इन्होने एक शिक्षिका के रूप में कई वर्षों तक स्कूल में बच्चों के साथ काम किया है|साथ-ही-साथ इन्हें बच्चों और शिक्षकों के लिए पठन-पाठन सामग्री लिखने का अनुभव भी रहा है|

सन्दर्भ सूची
  • NCF 2005 Curriculum Framework
  • NCF 2005 Syllabus
  • Ghaye Tony (2011),Teaching and Learning through Reflective Practice: A practical guide for positive action, Second edition, Routledge Taylor & Francis Group
  • Warwick Paul, (2007) Reflective practice: some notes on the development of the notion of professional reflection, Higher Education Academy, Education Subject Centre, ESCalate, University of Bristol, Retrieved on 24 Oct, 2018, from: https://dera.ioe.ac.uk/13026/1/3573.pdf
  • Chennat Sailaja (2014), Being A Reflective Teacher Educator, International Journal of Research in Humanities, Arts and Literature , Vol. 2, Issue 4, pp- 1-14, Retrieved on 24 Oct, 2018, from: http://oaji.net/articles/2014/488-1400575097.pdf
  • Zeichner, K. (1990). Educational and Social Commitments in Reflective Teacher Education Programs, In Proceedings of the National Forum of theAssociation of Independent Liberal Arts Colleges for Teacher Education. Milwaukee,9-11 Nov. ERIC, ED 344855. Retrieved on 24 Oct, 2018, from: Retrieved on 24 Oct, 2018, from: http://oaji.net/articles/2014/488-1400575097.pdf
  • Korthagen, F. A. J. (2014). Promoting core reflection in teacher education: Deepening professional growth. In: L. Orland-Barak & C. J. Craig (Eds), International Teacher Education: Promising pedagogies (Part A), (pp. 73-89). Bingley, UK: Emerald. : Retrieved on 25 Oct, 2018, from: https://korthagen.nl/en/wp-content/uploads/2018/07/Promoting-core-reflection.pdf
  • Ramsey, C., & Open University. (2006). Introducing reflective learning. Place of publication not identified: Open University. Retrieved on 25 Oct, 2018, Retrieved on 25 Oct, 2018, from: http://www.open.edu/openlearncreate/pluginfile.php/159274/mod_resource/content/3/Introducing%20Reflective%20learning%20Ramsey%2C%202006.pdf
  • Pollard, A., Anderson, J., Maddock, M., Swaffield, S., Warin, J., & Warwick, P. (2008). Reflective teaching: evidence-informed professional practice. (3rd ed.) London: Continuum International Publishing Group. Retrieved on 26 Oct, 2018, from: http://www.freerangeproduction.com/Reflective%20Teaching.pdf
  • Reijo Miettinen (2000) The concept of experiential learning and John Dewey's theory of reflective thought and action, International Journal of Lifelong Education, 19:1, 54-72, DOI: 10.1080/026013700293458.

Enroll